Recent Posts

राजस्थान के मुख्यमंत्री


1) हीरालाल शास्त्री :- ये राज्य के पहले मुख्यमंत्री थे ।
इनका कार्यालय 07/04/1949 से 05/01/1951 तक था।
इन्हीं के नेतृत्व में पहली लोकप्रिय उत्तरदायी सरकार का निर्माण हुआ।
26 जनवरी 1950 से पहले इनका पड़ नाम प्रधानमंत्री था।
2) सी.एस. वेंकटाचारी :- केंद्र सरकार के द्वारा इनको नियुक्त किया गया था।
इनका कार्यकाल 05/01/1951 से 26/04/1951 तक था।
ये IAS अधिकारी थे।
3) जयनारायण व्यास :- ये जोधपुर से सम्बंधित थे ।
इनका कार्यकाल 26/04/1951 से 03/03/1952 तक रहा।
1948 में जोधपुर रियासत की लोकप्रिय सरकार के मुख्यमंत्री रहे। इनके कार्यालय में प्रथम आम चुनाव हुए।
4) टीकाराम पालीवाल :- ये प्रथम लोकतांत्रिक सरकार के प्रथम निर्वाचित मुख्यमंत्री बने।
इनका कार्यकाल 03/03/1952 से 01/11/ 1952 तक रहा।
5) जयनारायण व्यास :- इनका कार्यकाल 01/11/1952 से 13/11/1954 तक रहा ।
इस समय इन्होंने किशनगढ़ क्षेत्र से उप चुनाव जीत था।
टीकाराम पालीवाल इनके उपमुख्यमंत्री थे ।
6) मोहनलाल सुखाड़िया :- इनका जन्म झालरापाटन में हुआ।
ये सर्वाधिक बार और सर्वाधिक लंम्बे समय तक मुख्यमंत्री रहे।
इनका कार्यकाल 13/11/1954 से 13/03/1967 तक रहा इस कार्यकाल में इन्होंने कमला बेनीवाल को उपमंत्री बनाया और ये राजस्थान की पहली महिला मंत्री बनी ।
13/03/1967 से 26/04/1967 तक किसी दल को स्पष्ट बहुमत नही मिलने के कारण राज्य में पहली बार राष्ट्रीपति शासन लागू हुआ।
ये पुनः 26/ 04/ 1967 से 08/07/1971 तक मुख्यमंत्री रहे।
7) बरकतुल्लाह खां :- इनका जन्म जोधपुर में हुआ।
इनका कार्यकाल 09/07/1971 से 11/10/1973 तक रहा।
ये पहले व एकमात्र अल्पसंख्यक मुख्यमंत्री थे।
इनका निधन इनके कार्यकाल के दौरान हो गया था ।
भारत पाक युद्ध 1971 के समय मुख्यमंत्री थे।
8) हरिदेव जोशी :- इनका जन्म खांदू गांव बाँसवाड़ा में हुआ।
इनका कार्यकाल 11/10/1973 से 29/04/1977 तक था।
ये बाँसवाड़ा क्षेत्र से निर्वाचित हुए।
इनके कार्यकाल में 25 जून 1975 को आपातकाल लागू हुआ।
9) भैरोसिंह शेखावत :- इनका जन्म खाचरियावास सीकर में हुआ।
इनका कार्यकाल 22/06/1977 से 16/02/1980 तक था।
ये राज्य के पहले गैर कांग्रेसी मुख्यमंत्री थे और पहली बार जनता पार्टी को स्पष्ट बहुमत मिला।
इस सरकार को समय से पहले भंग कर राष्ट्रपति शासन 17/02/1980 से 05/06/1980 के मध्य लागू हुआ और पहले मध्यावधि चुनाव हुए।
10) जगन्नाथ पहाड़िया :- ये राज्य के पहले अनुसूचित जाति के मुख्यमंत्री थे।
इनका कार्यकाल 06/06/1980 से 14/07/1981 तक था।
11) शिवचरण माथुर :- इनको डीग के निर्दलीय उम्मीदवार मानसिंह की हत्या के कारण 23/02/1985 को त्यागपत्र देना पड़ा।
इनका कार्यकाल 14/07/1981 से 23/ 02/1985 तक था।
12) हीरालाल देवपुरा :- ये सबसे कम अवधि 16 दिन तक मुख्यमंत्री रहे ।
13) हरिदेव जोशी :- 10/03/1985 से 20/01/1988 तक इनका दूसरा कार्यकाल रहा।
14) शिवचरण माथुर :- 20/01/1988 से 04/12/1989 तक इनका दूसरा कार्यकाल रहा।
15) हरिदेव जोशी :- 04/12/1989 से 04/03/1990 तक इनका दूसरा कार्यकाल रहा।
16) भैरोसिंह शेखावत :- इनके समय राज्य में दूसरी बार गैर कांग्रेसी सरकार बनी। इनका कार्यकाल 04/03/1990 से 14/12/1992 तक रहा । पहली भाजपा ने 200 क्षेत्र में चुनाव लड़ा। बाबरी कांड के कारण चौथी बार राष्ट्रपति शासन लागू हुआ।
04/12/1993 से 30/11/1998 में ये पुनः तीसरी बार मुख्यमंत्री बने। ये मोहनलाल सुखाड़िया के बार सर्वाधिक समय तक इस पद पर रहे।
17) अशोक गहलोत :- 01/12/1998 से 08/12/2003 इनका पहला कार्यकाल रहा। इनके नेतृत्व में कांग्रेस ने सर्वाधिक सीटें 153 जीती।
18) वसुंधरा राजे :- 08/12/2003 से 12/12/2008 इनका पहला कार्यकाल रहा। ये राज्य की पहली महिला मुख्यमंत्री थी। ये झालरापाटन से चुनी गई। इनके समय राज्य में पहली बार भाजपा को स्पष्ट बहुमत मिला
19) अशोक गहलोत :- 13/12/2008 से 12/12/2013 इनका दूसरा कार्यकाल था । 11 निर्दलीय सदस्यो के सहयोग से सरकार का गठन किया गया।
20) वसुंधरा राजे :- 13/12/2013 से 16/12/2018 तक इनका दूसरा कार्यकाल था।
21) अशोक गहलोत :- 17/12/2018 से वर्तमान तक ।

Post a Comment

0 Comments