Recent Posts

राजस्थान के प्राचीन नगर और विभिन्न इकाइयाँ भाग 1

प्राचीन काल मे राजस्थान में वर्तमान प्रदेशो को निम्न नामो से जाना जाता था :-
1) जंगल प्रदेश :- बीकानेर ओर जोधपुर का उत्तरी भाग।
2) हाड़ौती :- कोटा , झालावाड़, बूंदी और बांरा।
3) अहिच्छत्रपुरम :- नागौर।
4)ब्रज नगर :- झालरापाटन।
5) भटनेर :- हनुमानगढ़।
6) मांड या वल्लदेश :- जैसलमेर।
7) शूरसेन :- भरतपुर, धौलपुर, करौली।
8) राती घाटी :- बीकानेर।
9) आलौर :- अलवर।
10) खिज्राबाद :- चित्तौड़गढ़।
11) कुरु देश :- अलवर राज्य का उतरी भाग।
12) मेवात :- अलवर और उसके आस पास का क्षेत्र।
13) राठ :- अलवर झिले का हरियाणा से लगता क्षेत्र।
14) गिरवा :- उदयपुर नगर क्षेत्र।
15) ढूंढाड़ :- जयपुर के आसपास का क्षेत्र।
16) मेवल :- डूंगरपुर, बाँसवाड़ा के मध्य भाग।
17) वागड़ :- डूंगरपुर, बाँसवाड़ा, प्रतापगढ़।
18) रामनगर :- गंगानगर।
19) श्री माल :- भीनमाल।
20) अजयमेरू :- अजमेर।
21) सत्यपुर :- साँचोर।
22) उपकेश पट्टन :- ओसियां।
23) चन्द्रवती :- सिरोही।
24) जाबालीपुर :- जालौर।
25) योध्देय :- हनुमानगढ़ और गंगानगर के आसपास का क्षेत्र।
26) गोडवाड़ :- दक्षिणी पूर्वी बाड़मेर, जालौर, पश्चिमी सिरोही।
27) कांठल, देवलिया :- प्रतापगढ़।
28) शेखावाटी :- चूरू, सीकर, झुंझुनूं।
29) आबुर्द :- सिरोही के आसपास का क्षेत्र ।
30) श्रीपंथ :- बयाना।
31) कोंकण तीर्थ :- पुष्कर।
32) माध्यमिका :- नगरी।
33) विजयवल्ली :- बिजौलिया।
34) गोपाल पाल :- करौली।
35) तोरावाटी :- शेखावाटी में कंतली का अपवाह जहां तँवर वंशीय शासको का शासन रहा।

Post a Comment

0 Comments